उपराष्ट्रपति (Vice President)

vice president

उपराष्ट्रपति (Vice President)


➥उपराष्ट्रपति पद का वर्णन अनुच्छेद 63 में है।

➥उपराष्ट्रपति पद संयुक्त राज्य अमेरिका के संविधान से लिया गया है।

⚫उपराष्ट्रपति बनने की योग्यता :-

➥वह भारत का नागरिक हो।

➥वह कम से कम 35 वर्ष का हो चुका हो।

➥वह पागल तथा न्यायालय द्वारा घोषित अपराधी ना हो।

➥ वह राज्यसभा के सदस्य बनने की क्षमता रखता हो।

⚫चुनाव :-

➥उपराष्ट्रपति का चुनाव एक निर्वाचक निर्वाचक मंडल के द्वारा होता है जिसमें लोकसभा के एवं राज्यसभा के सभी सदस्य शामिल होते हैं।

Note :- लोकसभा व राज्यसभा के सभी निर्वाचित तथा  मनोनीत सदस्य।

⚫शपथ:-

➥उपराष्ट्रपति को राष्ट्रपति के द्वारा शपथ दिलाई जाती है।

⚫वेतन :-

➥उपराष्ट्रपति को प्रतिमा भारत की संचित निधि से ₹ 125000 मिलता है इसके अलावा निशुल्क आवास, टेलीकॉम, पात्र आदि सुविधाएं दी जाती है।

⚫कार्यकाल :-

➥उपराष्ट्रपति शपथ की तारीख से 5 वर्ष तक अपने पद पर बना रहता
है परंतु राष्ट्रपति को त्यागपत्र देकर  अपने इच्छा से 5 वर्ष के पहले भी
अपने पद से हट सकता है।

Note :- उपराष्ट्रपति पर संविधान के उल्लंघन का आरोप लगाकर 5 वर्ष से पहले भी राज्य सभा के साधारण बहुमत से हटाया जा सकता है परंतु लोकसभा के सहमति आवश्यक होती है।

⚫उपराष्ट्रपति का अधिकार, कार्य एवं शक्ति :-

1.) राज्यसभा का सभापतित्व करना :-

➥उपराष्ट्रपति राज्यसभा का पदेन सभापति होता है परंतु और राज्यसभा का सदस्य नहीं होता है। उसे वेतन भी राज्यसभा के सभापति के रूप में ही मिलता है।

2.)राष्ट्रपति के अनुपस्थिति में कार्य करना :-

➥ अनुच्छेद 65 के अनुसार राष्ट्रपति के बीमार होने और असमर्थ  होने पर राष्ट्रपति का काम उपराष्ट्रपति करता और उसे वेतन, भत्ता और पेंशन राष्ट्रपति के रूप में ही मिलता है।

➥सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति थे  %%कार्यकाल के लिए उपराष्ट्रपति के पद पर रहे थे। इन्हें 1954 ई. में भारत  रत्न से सम्मानित किया गया था।

➥पंजाब में 6 वर्ष तक राष्ट्रपति शासन रहा था जो सबसे अधिक राष्ट्रपति शासन लागू होने वाले राज्य है।

➥लोकतंत्र के अनुसार राष्ट्रपति शासन 3 वर्ष से अधिक नहीं हो सकता है।

➥वर्तमान में भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू है।

0 komentar